ओशो के 51+ अध्यात्मिक विचार ! OSHO QUOTES { in Hindi }



(Osho) जिनका दूसरा नाम रजनीश चंद्र मोहन था भारत के अध्यात्मिक गुरूओं में से एक थे। उन्होंने विश्व के प्रमुख धर्मों की व्याख्या की तथा उसे विस्तृत रूप से दुनिया के सामने रखा।

Osho Quotes in Hindi :-

 

  • यहाँ कोई भी आपका सपना पूरा करने के लिए नहीं है. हर कोई अपनी तकदीर और अपनी हक़ीकत बनाने में लगा है.

 

  • अपनी यूनीकनेस का सम्मान करें, और तुलना करना छोडें. आप जो हैं उसमे रिलैक्स रहें.

 

  • जिन्दगी में आप जो करना चाहते है, वो जरूर कीजिये, ये मत सोचिये कि लोग क्या कहेंगे। क्योंकि लोग तो तब भी कुछ कहते है, जब आप कुछ नहीं करते।

 

  • ये कोई मायने नहीं रखता है की आप किसे प्यार करते हो, कंहा प्यार करते हो, क्यों प्यार करते हो, कब प्यार करते हो और कैसे प्यार करते हो, किस लिए प्यार करते हो, मायने केवल यही रखता है की आप केवल प्यार करते हो.

 

  • जहां आपको लगता है कि कुछ निंदा हो रही है वहीं आपको रस आता है, रस आता है क्योंकि दूसरा आदमी छोटा किया जा रहा है और उसके छोटे होने से आपको अंदर से अनुभव होता है कि मैं बड़ा हूं।

 

  • यदि आप एक दर्पण बन सकते हैं तो आप एक ध्यानी बन सकते हैं. ध्यान दर्पण में देखने की कला है. और अब, आपके अन्दर कोई विचार नहीं चलता इसलिए कोई व्याकुलता नहीं होती

 

  • अधिक से अधिक भोले, कम ज्ञानी और बच्चों की तरह बनिए. जीवन को मजे के रूप में लीजिये – क्योंकि वास्तविकता में यही जीवन है.

 

Read Also — अनमोल वचन, जो जीने की कला सिखायें ! TOP 2018 ANMOL VACHAN { Read More…}

 

  • जीवन कोई tragedy नहीं है; ये एक comedy है, जीवित रहने का मतलब है हास्य का बोध होना.

 

  • जब दिल में प्यार और नफरत दोनों ही ना हो तो हर चीज साफ़ और स्पष्ट हो जाती है।

 

  • जिस दिन आप ने सोच लिया कि आपने ज्ञान पा लिया है, आपकी मृत्यु हो जाती है- क्योंकि अब ना कोई आश्चर्य होगा, ना कोई आनंद और ना कोई अचरज. अब आप एक मृत जीवन जियेंगे.

 

  • अर्थ मनुष्य द्वारा बनाये गए हैं . और क्योंकि आप लगातार अर्थ जानने में लगे रहते हैं , इसलिए आप अर्थहीन महसूस करने लगते हैं.

 

  • मनुष्य कभी भी खुद ईश्वर तक नहीं पहुंचता है, बल्कि जब वो जीवन में तैयार होता है तो ईश्वर खुद उसके पास आ जाते है.

 

  • मूर्ख दूसरों पर हँसते हैं. बुद्धिमत्ता खुद पर.

 

  • जब मैं कहता हूँ कि आप देवी-देवता हैं तो मेरा मतलब होता है कि आप में अनंत संभावनाएं है , आपकी क्षमताएं अनंत हैं.

 

  •  आप जितने लोगों को चाहें उतने लोगों को प्रेम कर सकते हैं- इसका ये मतलब नहीं है कि आप एक दिन दिवालिया हो जायेंगे, और कहेंगे, “अब मेरे पास प्रेम नहीं है”. जहाँ तक प्रेम का सवाल है आप दिवालिया नहीं हो सकते.

 

  • बड़ा सवाल ये नहीं है कि कितना सीखा जा सकता है…. इसके उलट, सवाल ये है कि कितना भुलाया जा सकता है.

 

  • अगर आप सही में सच देखना चाहते हैं तो आप ना सहमती और ना असहमति में राय रखिये.

 

  • मैं ‘किसी से’ बेहतर करूं क्या फर्क पड़ता है….! मैं ‘किसी का’ बेहतर करूं बहुत फर्क पड़ता है……!!

 

  • प्रसन्नता सद्भाव की छाया है; वो सद्भाव का पीछा करती है. प्रसन्न रहने का कोई और तरीका नहीं है.

 

  • मित्रता शुद्ध तम प्रेम है. ये प्रेम का सर्वोच्च रूप है जहाँ कुछ भी नहीं माँगा जाता , कोई शर्त नहीं होती , जहां बस देने में आनंद आता है.

 

  • संसार सुन्दर है क्योंकि इसे ईश्वर ने बनाया है, जो संसार को गंदा कहता है, वह ईश्वर को गन्दा कहता है.

 

  • सम्बन्ध उनकी ज़रुरत हैं जो अकेले नहीं रह सकते.

 

  • कभी ये मत पूछो, ” मेरा सच्चा दोस्त कौन है?” पूछो, “क्या मैं किसी का सच्चा दोस्त हूँ?” ये सही प्रश्न है.

 

  • उस तरह मत चलिए जिस तरह डर आपको चलाये. उस तरह चलिए जिस तरह प्रेम आपको चलाये. उस तरह चलिए जिस तरह ख़ुशी आपको चलाये.

 

  • असली सवाल यह है की भीतर तुम क्या हो ? अगर भीतर गलत हो, तो तुम जो भी करोगे, वो गलत ही होगा. अगर तुम भीतर सही हो, तो तुम जो भी करोगे, वह सही होगा.

 

  • खुद को खोजिये, नहीं तो आपको दुसरे लोगों के राय पर निर्भर रहना पड़ेगा जो खुद को नहीं जानते.

 

  • आपके जैसा इंसान दुनिया में कभी नहीं होगा, दुनिया में अभी आपके जैसा दूसरा इंसान कही नहीं है, और ना ही आपके जैसा कभी भविष्य में कोई होगा.

 

  • आपके सारे विश्वास आपका दम घोटते चले जाते है, और सारे विश्वास आपको जिंदा भी नहीं रख सकते. आपका विश्वास ही आपके जीवन को मारता है.

 

  • प्रेम तब खुश होता है जब वो कुछ दे पाता है. अहंकार तब खुश होता है जब वो कुछ ले पाता है.

 

  • जीवन क्या है? कुछ नहीं, ठेहराव और गति के बीच का संतुलन।

 

Read Also — Vivek Bindra के अनमोल विचार ! Vivek Bindra’s Motivational Quotes

 

  • वह इंसान जो अकेले रहकर भी खुश है असल में वही इंसान कहलाने योग्य है. यदि आपकी ख़ुशी दूसरों पर निर्भर करती है तो आप एक गुलाम हो. अभी आप पूरी तरह से मुक्त नहीं हुए हो अभी आप गुलामी में बंधे हो.

 

  • नरक हमारी रचना है, और हम असंभव करने का प्रयास कर नरक बनाते हैं. स्वर्ग हमारी प्रकृति है, यह हमारी सहजता है. ये वो जगह है जहाँ हम हमेशा होते हैं.

 

  • आधे-अधूरे ज्ञान के साथ कभी आगे ना बढे. ऐसा करने पर आपको लगेगा कि आप अज्ञानी हो, और अंत तक अज्ञानी ही बने रहोगे.

 

  • प्यार एक पक्षी है जिसे आज़ाद रहना पसंद है. जिसे बढ़ने के लिए पूरे आकाश की जरूरत होती है.

 

  • जिंदगी कोई मुसीबत नहीं है बल्कि ये तो एक खूबसूरत तोहफा है.

 

  • जब आप अलग हैं, तो पूरी दुनिया अलग है. ये दूसरी दुनिया बनाने का सवाल नहीं है. ये केवल एक अलग आप बनाने का सवाल है.

 

  • वो जो आपको दुखी बनाता है केवल वही पाप है. वो जो आपको खुद से दूर ले जाता है केवल उसी से बचने की ज़रूरत है.

 

  • बहुत सुन्दर शब्द जो एक मंदिर के दरवाजे़ पर लिखे थे- ‘ठोकरे खा कर भी ना संभले तो मुसाफ़िर का नसीब, वरना पत्थरों ने तो अपना फर्ज निभा ही दिया!’

 

  • शायद मुझे अब तक सबसे अधिक गलत समझा गया है लेकिन इसका मुझ पर कोई असर नहीं। कारण केवल इतना है कि मुझे सही समझे जाने की जिज्ञासा नहीं। यदि वे सही नहीं समझते तो यह उनकी समस्या है, यह मेरी समस्या नहीं है। यदि वे गलत समझते हैं तो यह मेरी नहीं, उनकी समस्या है, उनका दुख है। मैं अपनी नींद नहीं खराब करूंगा यदि लाखों लोग मुझे गलत समझ रहे हैं।

 

  •  ये Imperfect है, और इसीलिए ये Grow कर रहा है; अगर ये Perfect होता तो ये मर चुका होता, Growth तभी संभव है जब Imperfection हो.

 

  • सत्य कुछ बाहरी नही है जिसे खोजा जाना है, ये कुछ अंदरूनी है जिसका एहसास किया जाना है.

 

  • जिस समय आपको आपके प्यार और आपके सच में से किसी एक को चुनना पड़ता है तब आपका सच ही आपके लिए निर्णायक साबित हो सकता है.

 

  • प्रश्न ये नहीं है की क्या मृत्यु के बाद भी जिंदगी रहेंगी. प्रश्न तो ये है की क्या आप मृत्यु से पहले जिंदगी जी सकोगे.

 

  • कोई आदमी चाहे लाखों चीजें जान ले। चाहे वह पूरे जगत को जान ले। लेकिन अगर वह स्वयं को नहीं जानता है तो वह अज्ञानी है।

 

  • मैं तो दो ही शब्दों पर जोर देता हूं- प्रेम और ध्यान। क्योंकि मेरे लिए अस्तित्व के मंदिर के दो ही विराट दरवाजे हैं। एक का नाम प्रेम, एक का नाम ध्यान। चाहो तो प्रेम से प्रवेश कर जाओ, चाहो तो ध्यान से प्रवेश कर जाओ। शर्त एक ही हैः अहंकार दोनों में छोड़ना होता है।

 

  • यदि आप तुलना करना छोड़ो तो जिंदगी निश्चित ही बहुत सुन्दर है. यदि आप तुलना करना छोड़ दो तो आपकी जिंदगी खुशियों से भरी होंगी.

 

  • जब आप हंस रहे होते हैं, तो ईश्वर की ईबादत कर रहे होते हैं। और जब आप किसी को हँसा रहे होते हैं, तो ईश्वर आपके लिए ईबादत कर रहा होता है।

 

  • एक शराबी बने, जिसमें जीवन के अस्तित्व की शराब को पिए. कभी भी मासूम ना बने, क्योंकि मासूम हमेशा मरे हुए होते है.

 

  • जो लोग ये पूछते है की जीवन का क्या महत्व है? असल में ऐसे लोगों ने जीवन को ही खो दिया है. वे सिर्फ अपनी सांस लेने के वजह से ही जिंदा है बाकी अंदर से तो वो कब के मर चुके होते है.

 

  • तुमने पद, धन, यश, कीर्ति, प्रेम इन सबकी चेष्टाएं की, बस एक ध्यान के दीए को जलाने की चेष्टा नहीं की, वही काम आएगा। मृत्यु केवल उसी दीए को नहीं बुझा पाती। बुद्ध कहते हैं, ध्यान अमृत सूत्र है।

 

  • मनुष्य का हमेशा डर के माध्यम से शोषण किया जाता है.

 

जरुर पढ़े: 

सलमान खान के प्रेरणादायक विचार !

ELON MUSK के अनमोल विचार !

ब्रूस ली के प्रेरणादायक विचार एवं रोचक तथ्य 

 

Dear Readers आपको यह “ओशो के 51+ आध्यात्मिक विचार ! OSHO QUOTES { in Hindi }” कैसी लगी वो आप हमें Comment द्वारा ज़रूर बताइयेगा.

यह  “ओशो के 51+ आध्यात्मिक विचार !”  को अपने मित्रों और परिवार के साथ शेयर करना न भूले. और Facebook, Google + पर भी ज़रूर ज़रूर Share और Like करे |



 NOTE ⇒ हमारा उद्देश्य ज्ञान को बांटना (share) है और यह काम हम अकेले नहीं कर सकते क्योंकि इस दुनिया का सारा ज्ञान हमारे पास नहीं है और हम भी आपकी तरह एक ही सामान्य व्यक्ति है जो दिन में खुली आँखों से सपने देखते है और उन्हें पूरा करने के लिए कोशिश करते रहते है | दोस्तों ज्ञान बांटने से बढ़ता है इसलिए आप भी HINDI के इस अनमोल मंच से जुड़े एंव अपने ज्ञान को हमारे साथ share करें, हम आपके द्वारा भेजे गए सभी अच्छे लेखों को Website पर publish करेंगे| आप अपने लेख हमें Whattsapp Number ( 85569-78342 ) पर भेज सकते है



 

Share Now

Post Author: sudhir singhmar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *