STEPHEN HAWKING की अद्धभूत जीवनी ! STEPHEN HAWKING BIOGRAPHY { in Hindi } 2018



STEPHEN HAWKING की अद्धभूत जीवनी ! STEPHEN HAWKING BIOGRAPHY { in Hindi }



मुझे मौत से कोई डर नहीं लगता. लेकिन मुझे मरने की भी कोई जल्दी नहीं है. क्योंकि मरने से पहले जिंदगी में बहुत कुछ करना बाकी है | ऐसा कहना है महान और अद्भुत वैज्ञानिक STEPHEN HAWKING का,  जिसके शरीर का कोई भी अंग काम नहीं करता था | वह चल नहीं सकते, वह बोल नहीं सकते. वह कुछ कर नहीं सकते लेकिन फिर भी जीना चाहते  थे इनका कहना था कि मृत्यु निश्चित है, लेकिन जन्म और मृत्यु के बीच जैसे जीना चाहते हैं वह हम पर निर्भर करता है | चाहे जिंदगी कितनी भी कठिन हो आप हमेशा कुछ न कुछ कर सकते हैं और सफल हो सकते हैं |

STEPHEN HAWKING का जन्म 8 जनवरी 1942 को में इंग्लैंड में हुआ था| जब STEPHEN HAWKING का जन्म हुआ, उस समय दूसरा विश्व युद्ध चल रहा था |

STEPHEN के माता पिता जिस शहर में रहते थे वहां अक्सर बमबारी हुआ करती थी, जिसकी वजह से वह अपने पुत्र के जन्म के लिए OXFORD चले आए | जहां पर सुरक्षित रूप से STEPHEN HAWKING का जन्म हो सका | बचपन से ही HAWKING बहुत ही इंटेलिजेंट थे | उनके पिता डॉक्टर और मां एक हाउस वाइफ थी | STEPHEN की बुद्धि का परिचय इसी बात से लगाया जा सकता है कि बचपन में लोग उन्हें EINSTEIN कहते थे | STEPHEN HAWKING को गणित में बहुत दिलचस्पी थी, यहां तक की उन्होंने पुराने इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से कंप्यूटर बना दिया था |

17 वर्ष की उम्र में उन्होंने OXFORD UNIVERSITY में प्रवेश लिया | पढ़ाई के दौरान उन्हें अपने दैनिक कार्यों को करने में थोड़ी दिक्कत आने लगी थी | एक बार छुट्टियां मनाने के लिए अपने घर पर आए हुए थे तभी सीढ़ियों से उतरते समय बेहोश हो गए और नीचे गिर गए |


Read Also — ज़िंदगी में अगर कुछ करना चाहते हो तो इस 1 चीज़ को आज ही छोड़ दें । 


शुरू में तो सभी ने मात्र कमजोरी समझकर ज्यादा ध्यान नहीं दिया, लेकिन बार-बार इसी तरह अलग-अलग प्रॉब्लम होने के बाद जांच करवाया तो पता चला कि उन्हें कभी ना ठीक होने वाली बीमारी है | इस बीमारी में मांसपेशियों को नियंत्रित करने वाली सारी नसें धीरे धीरे काम करना बंद कर देती है, जिससे शरीर अपंग हो जाता है और पूरे अंग काम करना बंद कर देते हैं | डॉक्टर का कहना था अब STEPHEN सिर्फ 2 वर्ष और जी सकते हैं, क्योंकि अगले 2 सालों में उनका पूरा शरीर धीरे-धीरे काम करना बंद कर देगा |

STEPHEN को भी इस बात से बड़ा सदमा लगा, उन्होंने कहा कि मैं ऐसे नहीं मर सकता | मुझे जीवन में बहुत कुछ करना तो अभी बाकी है | अपनी बीमारी को दरकिनार कर उन्होंने तुरंत वैज्ञानिक जीवन का सफर शुरू किया और अपने आप को पूरी तरह से विज्ञान को समर्पित कर दिया | धीरे-धीरे दुनिया में भी उनकी खूब चर्चा होने लगी । वे अपने अपांग शरीर को परमात्मा का दिया हुआ एक वरदान मानते थे | लेकिन वहीं दूसरी तरफ उनका शरीर भी उनका साथ छोड़ चला जा रहा था | धीरे-धीरे उनका हिस्सा पूरा काम करना बंद कर दिया  बीमारी बढ़ने पर उन्हें व्हील चेयर की जरूरत हुई |ये एक ऐसी व्हील चेयर थी जो उनकी आँखों और दिमाग दे पता लगा लेती थी की वे क्या बोलना छह रहे है | धीरे-धीरे पूरा शरीर काम करना बंद कर दिया था |

लोग यूँही देखते चले गए और हॉकिंग मौत को मात पे मात देते रहे ।। उनकी इच्छा शक्ति ने मानो उन्हें मृत्युंजय बना दिया हो । इसी बीच हॉकिंग तीन बच्चो के पिता भी बने। यही कहा जा सकता है हॉकिंग सिर्फ शारीरिक रूप से अपांग हुए थे ना की मानसिक रूप से । उन्होंने अपनी बीमारी को एक वरदान के रूप में लिया।वो अपने मार्ग पे आगे बढ़ते चले गए और दुनिया को दिखाते चले गये की उनकी इच्छा शक्ति और उनकी बुद्धि मत्ता कम नहीं आंकी जा सकती ।

सन 1995 में उनकी पहली पत्नी जेन वाइल्ड ने उन्हें तलाक दे दिया और हॉकिंग की दूसरी शादी हुई इलियाना मेसन से जिन्होंने उन्हें 2006 में तलाक दिया। पहली से पत्नी तलाक मिलने का कारण यह मन जाता है की जेन एक धार्मिक स्त्री थी जबकि हॉकिंग हमेशा से भगवान के अस्तित्व को चुनौती देते थे।जिसके कारण दुनिया भर में हॉकिंग की काफी किरकिरी भी हुई लेकिन इन सब से दूर हॉकिंग अपनी खोजो पे आगे बढ़ते गये और दुनिया को बता दिया की अपंगता तन से होती है मन से नहीं।

उन्होंने ब्लैक होल का कांसेप्ट दुनिया को दिया, उन्होंने हॉकिंग रेडिएशन का विचार भी दुनिया को दिया । और उनकी लिखी गयी किताब “A BRIEF HISTORY OF TIME “ ने दुनिया भर के विज्ञान जगत में तहलका मचा दिया। हॉकिंग का IQ 160 है जो किसी जीनियस से भी कहीं ज्यादाहै। 2007 में उन्होंने अंतरिक्ष की सैर भी की । जिसमे वो शारीरिक तौर पे “फिट “ पाए गए। आज उन्हें भौतिकी के छोटे बड़े कुल 12 पुरस्कारों से नवाज़ा जा चूका है ।

दोस्तों स्टीफन हॉकिंग एक ऐसा नाम है जिन्होंने अपने आत्मविश्वास के बल पर दुनिया का एक मशहूर वैज्ञानिक बन कर दिखाया है जो विश्व में नया की अद्भुत लोगों बल्कि सामान्य लोगों के लिए भी प्रेरणा बने

जरुर पढ़े: 

 STEPHEN HAWKING के अद्भुत विचार ! 

बुलंद होसलों की कहानी- नेपोलियन बोनापार्ट की कहानी !

अच्छे लोग हमेशा दुःख और परेशानियां क्यों पाते हैं, क्या आप जानते हैं । 



NOTE ⇒ हमारा उद्देश्य ज्ञान को बांटना (share) है और यह काम हम अकेले नहीं कर सकते क्योंकि इस दुनिया का सारा ज्ञान हमारे पास नहीं है और हम भी आपकी तरह एक ही सामान्य व्यक्ति है जो दिन में खुली आँखों से सपने देखते है और उन्हें पूरा करने के लिए कोशिश करते रहते है | दोस्तों ज्ञान बांटने से बढ़ता है इसलिए आप भी HINDI के इस अनमोल मंच से जुड़े एंव अपने ज्ञान को हमारे साथ share करें, हम आपके द्वारा भेजे गए सभी अच्छे लेखों को Website पर publish करेंगे| आप अपने लेख हमें Whattsapp Number ( 85569-78342 ) पर भेज सकते है



 

Share Now

Post Author: sudhir singhmar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *